Advertisement

स्वच्छता में सहयोग करें, लखनऊ बनेगा अव्वल

Newsvillah.in

शहर में सफाई व्यवस्था पर हो रहे काम का असर दिखने लगा है। सड़के साफ-सुथरी दिख रही है धूल नहीं उड़ रही है नगर निगम ने जगह-जगह डस्टबिन रखवा दिए हैं इस व्यवस्था को बनाए रखने में अब शहरवासियों की जिम्मेदारी है सहयोग से ना सिर्फ अपना शहर साफ सुथरा दिखेगा बल्कि स्वच्छता सर्वेक्षण की रैंकिंग में अव्वल स्थान भी मिलेगा।

मशीनों से सफाई का दिख रहा असर नगर निगम ने सड़क पर झाड़ू लगाने के बजाय मशीनों से सफाई व्यवस्था शुरू कराई है। इससे दूर होने की समस्या का समाधान हो गया है। नगर निगम की चार मशीनें हर रात 60 से 70 किलोमीटर सफाई कर रही हैं। बड़े कूड़े उठाने के लिए मशीनों के साथ अलग से वाहन व सफाई कर्मी भी तैनात है। सफाई के साथ सड़कों डिवाइडर व रेलिंग की धुलाई भी हो रही है 53 किलोमीटर की सफाई व्यवस्था निजी अजय जी को दिया गया है। उसने दो मशीनों को दो रूटों पर लगाया है अत्याधुनिक मशीनें धूल समेटने के साथ पानी का छिड़काव भी कर रही है।

स्वच्छता एप पर फीडबैक दें> स्वच्छता का सर्वेक्षण शुरू हो गया है जनता के फीडबैक का बड़ा महत्व है लोग अपने मोबाइल में स्वच्छता ऐप डाउनलोड कर उसमें पूछे जाने वाले सात सवालों का जवाब जरूर दें। साथ ही एप के माध्यम से शिकायत भी दर्ज कराएं शहर को स्वच्छ बनाए रखने में हम सबकी जिम्मेदारी है जगह-जगह डस्टबिन रखवा दी गई है। कूड़ा सड़क पर फेंकने के बजाय लोग उसमें कूड़ा डालें।

जनता का सहयोग जरूरी>
राजीव गांधी द्वितीय वार्ड को शहर में पहला व प्रदेश में तीसरे स्थान पर लाने में लोगों का सहयोग महत्वपूर्ण रहा उनसे अपने घर के सामने साफ सफाई करने वालों दूसरे के घर के सामने कूड़ा ना डालने की अपील की गई। शहर के सभी वार्डों के लोगों को यह प्रयास करना होगा तभी अपना शहर देश का सबसे स्वच्छ शहर बन सकेगा डॉ भरत राज सिंह वैज्ञानिक व राजीव गांधी वार्ड द्वितीय स्वच्छता समिति के अध्यक्ष।

Post a Comment

0 Comments