Advertisement

अमेरिका ने पाकिस्तान के परमाणु बमों को नष्ट करने का प्लान बनाया। F.B.I को सौपी कमान

Share this article
F.B.I

परमाणु बम विनाश का सबसे बड़ा हथियार विनाश के हथियार के बल पर आतंकवादियों को पनाह देने वाला मुल्क बन गया पाकिस्तान। बात-बात बात पर दुनिया को ब्लैकमेल करता है उसके गैर जिम्मेदार नेता बाद बात पर परमाणु बम चलाने की धमकी देते हैं लेकिन बात बात पर परमाणु बम की धमकी देने वाले पाकिस्तान के लिए खबर है परमाणु बम पर अकड़ दिखाने वाले पाकिस्तान को हम हमेशा खत्म करने की मांग जोर पकड़ने लगी है। अमेरिका के पूर्व मंत्री लैरी प्रेस्सलेर ने अपनी किताब (Neighbour in Arms: An American Senator's Quest for Disarmament in a Nuclear Subcontinent) में कहा,भारत और अमेरिका को एक साथ मिलकर पाकिस्तान में घुसकर उसके आतंकवाद और परमाणु बम के सभी ठिकानों को नष्ट कर देना चाहिए।
लैरी प्रेस्सलेर ने कहा कि इस मकसद को पूरा करने की राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिका के रक्षा विभाग पेंटागन पर दबाव बनाना पड़ेगा।
प्रेस्सलेर की दलील है कि पेंटागन कि इस सह के कारण ही पाकिस्तान भारत को घेरता आया है।
हालांकि उनका मानना है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप इस सोच को बदल रहे हैं। दिलचस्प बात यह है कि खुद डोनाल्ड ट्रंप खुद यह कह चुके हैं कि अमेरिका को भारत से मिलकर पाकिस्तान के परमाणु बम तबाह कर देने चाहिए या छीन लेना चाहिए। यह सोच केवल कल्पना नही है।
अमेरिका जानता है कि पाकिस्तान के परमाणु हथियार असुरक्षित होते जा रहे हैं दुनिया भर के परमाणु बमों पर नजर रखने वाली अमेरिकी संस्था Federation of American Scientists (FAS) की ताजा रिपोर्ट में भी यह दावा किया गया।

रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के परमाणु बम और हथियारों को आतंकी गुटों और पाकिस्तान की सेना में मौजूद कट्टरपंथियों से खतरा है भारत की रक्षा काल भी जानते हैं कि पाकिस्तान अपने परमाणु और रक्षा हथियारों को छोटे-छोटे ट्रकों में रखकर घूमाता रहता है। लिहाजा कभी यह भी हो सकता है कि आतंकी उसे पाकिस्तानी सेना से छीन ले।

इसलिए अमेरिका में यह सोच मजबूत होती जा रही है ,कि पाकिस्तान के आतंकी और परमाणु ठिकानों पर हमला करके तबाह कर देना चाहिए या उन्हें छीन लेना चाहिए।
अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका के पास एक ऐसा गुप्त प्लान है जिससे पाकिस्तानी परमाणु बमों को तबाह किया जा सकता है या फिर उसे हटाया जा सकता है।
या योजना एक तेज फौजी ऑपरेशन के जरिए पाकिस्तान के करीब एक दर्जन परमाणु बेस पर पहुंचकर काम करने या उनके ट्रिगर को कब्जे में लेने की है।

खबरों के मुताबिक पाकिस्तान में घुसकर कमांडो ऑपरेशन के जरिए अमेरिका उसे परमाणु हथियार तबाह करने की योजना बना चुका है और ऐसा करने के लिए उसके पास ताकत भी है।
पाकिस्तान के परमाणु बम खेलने का प्लान पाकिस्तान के एबटाबाद में ओसामा को मारने के बाद और मजबूत हो गया इस तरह के बाद अमेरिकी तजुर्बे कारों को लगने लगा कि वह पाकिस्तान के परमाणु ठिकानों को भी निशाना बना सकते हैं।
ऐबटाबाद के ऑपरेशन से यह भी साबित हो चुका है कि अमेरिका अपने हितों की रक्षा के लिए किसी भी हद तक जा सकता है। 

Post a Comment

0 Comments